Ransomware attack

Ransomware का हिंदी में क्या मतलब है | Ransomware meaning in हिंदी

दोस्तों यह अंग्रेजी शब्द दो शब्दों से मिल कर बना है Ransome + Ware। पहला शब्द Ransome का मतलब होता है ‘फिरौती’ और दुसरा शब्द Ware मुख्या रूप से ‘सॉफ्टवेयर’ से लिया गया है। सम्पूर्ण रूप से अगर देखा जाए तो Ransomware का मतलब (Ransomware meaning in hindi) है ”फिरौती वाला सॉफ्टवेयर”।

Ransomware = फिरौती वाला सॉफ्टवेयर

 

Ransomware क्या है | What is Ransomware in hindi

Ransomware एक किस्म का Malware (virus) है जो की डिवाइस (कंप्यूटर, लैपटॉप या मोबाइल) में आते ही उसे पूरी तरह लॉक कर देता है। डिवाइस लॉक होते ही आपके डिवाइस का पूरा डाटा और फाइल्स हैकर (जिसने वायरस भेजा है) उसके पास होता है। एक बार Ransomware डिवाइस में आ जाए तो उसके बाद user अपने डिवाइस की कोई भी चीज access नहीं कर सकता।

Ransomware के डिवाइस में आने के बाद स्क्रीन पर सिर्फ एक ही मैसेज डिस्प्ले होता है और वो है ”Pay to Unlock”. इसमें आपको तय समय सीमा के अंदर हैकर को बताई गई रकम चुकानी होती है। ऐसा नहीं करने पर हैकर आपके डिवाइस का पूरा डाटा हमेशा के लिए डिलीट कर देता है या फिर आपकी प्राइवेट फाइल्स को पब्लिकली लीक करने की धमकी देता है।

Ransomware virus आने के बाद आप अपने सिस्टम को चाहे जितनी बार on या off कर ले आपके सिस्टम पर सिर्फ “Pay to Unlock” का ही मैसेज आ रहा होता है। ऐसे में डाटा को बचने के लिए आपको हैकर द्वारा मांगी गई आपके डाटा के फिरौती की रकम चुकानी ही पड़ती है। यह रकम हैकर Cryptocurrency (mostly Bitcoin) के रूप में लेते हैं। जिससे की आपको उनके बैंक अकाउंट का भी पता नहीं चल पाता है। Ransomware वायरस अटैक ज्यादातर बड़ी-बड़ी कंपनियों और सरकारी दफ्तरों के devices पर किया जाता है जिससे उनके डाटा को चुराकर और उनके काम को रोककर उनसे फिरौती की बड़ी रकम मांगी जा सके।

 

Ransomware कैसे आता है | How Ransomware affects

 

यह वायरस ऑनलाइन सर्फिंग करते समय किसी नई और अविश्वसनीय वेबसाइट पर जाने पर या किसी untrusted source से कोई फाइल डाउनलोड करने पर आ सकता है। इतना ही नहीं कई बार हैकर ईमेल के जरिए कोई इन्फेक्टेड फाइल भी आपको भेज सकते हैं जिसके खोलने या डाउनलोड करते ही आपके डिवाइस में यह वायरस आ जायेगा। डिवाइस पर Ransomware attack करने के लिए आमतौर पर हैकर Trojan virus का इस्तेमाल करते हैं। Ransomware virus के आते ही यह अपने आप ही डिवाइस की सभी फाइल्स को encrypt कर देता है और फिर फिरौती का पैसा दिए जाने के बाद ही हैकर आपकी फाइल्स को decrypt करता है।

 

Ransomware के मुख्या प्रकार | Types of Ransomware in hindi

 

1. Screen lockers

यह वायरस आपके सिस्टम को लॉक कर देता है। इस वायरस के आ जाने पर आपके सिस्टम की स्क्रीन पर सिर्फ एक मैसेज आ रहा होता है जिसमे FBI या अमेरिका के न्याय विभाग की मोहर होती है साथ ही लिखा होता है कि आपके कंप्यूटर पर गैर कानूनी गतिविधियां देखी गई हैं और आपको इसके लिए जुरमाना भरना पड़ेगा। बता दें की इससे FBI या अमरीकी सरकार का कोई लेना देना नहीं होता यह सब करामात हैकर द्वारा रची गई होती है।

 

2. Scareware

Scareware जैसा की नाम से ही स्पष्ट होता है यह Ransomware आपको डराने के लिए बनाया गया है। इसमें इंटरनेट पर किसी untrusted साइट (कोई illegal या porn साइट) खोलते समय आपके सिस्टम की स्क्रीन पर एक पॉपअप मैसेज आता है। जिसमे लिखा होता है की आपके डिवाइस पर malware या virus डिटेक्ट हुआ है और आपको उसे क्लीन करने के लिए एक antivirus सॉफ्टवेयर डाउनलोड करने की जरुरत है।

यह पॉपअप नजरअंदाज करने पर बार-बार ओपन होता है जब तक की आप उस सॉफ्टवेयर को डाउनलोड नहीं कर लेते। यह antivirus software एक paid software होता है जिससे सामने वाला आपसे पैसे कमाता है। हलाकि इससे आपके डिवाइस की files safe रहती हैं और उन पर कोई खतरा नहीं होता। यह Ransomware सिर्फ डराने की लिए बनाया गया होता है।

 

3. Encrypting Ransomware

इस Ransomware वायरस के आ जाने पर ये आपके डिवाइस की सारी files को encrypt कर देता है। इसके बाद आप अपने डिवाइस के किसी भी फाइल को नहीं खोल सकते। एक बार यह वायरस आ गया तो आपको अपनी फाइल्स को decrypt करने के लिए हैकर को फिरौती के पैसे चुकाने पड़ते हैं।

 

कुछ जाने माने Ransomware | Some Famous Ransomware in hindi

 

1. Cryptolocker

इस Ransomware में आपको पहले एक ईमेल आता है जिसमे आपको कोई ऑनलाइन आर्डर ट्रैक करने के लिए या आपके बैंक अकाउंट के किसी नोटिफिकेशन के सम्बन्ध में एक लिंक दिया जाता है। लिंक को खोलते ही अपने आप एक अटैचमेंट फाइल डाउनलोड होती है जिसमे ये virus होता है। यह वायरस install होते ही आपके डिवाइस की हार्ड ड्राइव और उससे जुड़े सारे नेटवर्क डिवाइस को encrypt कर देता है।

 

2. Bad Rabit

इस Ransomware से अब तक ज्यादातर सिर्फ रूस और यूक्रेन की मीडिया कंपनियों को टारगेट किया गया है। इस वायरस के आने से पहले आपको एक मैसेज आता है। जिसमे लिखा होता है की आपको आपके फ़्लैश प्लेयर को अपडेट करने की जरुरत है। अपडेट का बटन दबाते ही यह वायरस आपके डिवाइस में आ जाता है।

 

3. SamSam

ईरान के दो नागरिक मोहम्मद मेहदी शाह मंसूरी और फ़रमारज शाही सावंडी ने इस वायरस को इजात किया था। इस वायरस को डिवाइस में डालने के लिए वीक पासवर्ड वाले कंप्यूटर सर्वर्स को निशाना बनाया जाता था और Brute force tactics का इस्तेमाल करके कंप्यूटर में डाला जाता था। इस वायरस से हैकर्स ने 2017 में खूब तबाही और लूटपाट मचाई थी।

 

Ransomware से अपने डिवाइस को कैसे बचाये | How to protect our device from Ransomware virus

 

1. अविश्वसनीय वेबसाइट को ना खोलें

अविश्वसनीय वेबसाइट जैसे की कोई पायरेटेड सॉफ्टवेयर डाउनलोड करने की वेबसइट, गैरकानूनी धंधे जिस पर होते हो, gambling वेबसाइट, porn वेबसाइट आदि ना चलाए हैकर्स मूलतः ऐसी ही वेबसाइट के जरिए अटैक करते हैं।

 

2. किसी अनजान की तरफ से आये Email में दिए लिंक पर क्लिक न करें

किसी अज्ञात इंसान की तरह से आए email को ना खोले या इन email में दिए लिंक पर क्लिक ना करें। ऐसे ईमेल spam होते हैं और इससे आपके सिस्टम में Ransomware आने का खतरा बढ़ जाता है।

 

3. इंटरनेट पर Ad-blocker का इस्तेमाल करें

कई ransomware malicious ad के जरिए आपके डिवाइस तक पहुंच जाता है। इसलिए आपको चाहिए की आप हमेशा इंटरनेट सर्फिंग करते समय अड़-blocker का इस्तेमाल करें ताकि अनचाह Ads आपकी स्क्रीन पर ना आएं।

 

4. अनचाहे या अविश्वसनीय सॉफ्टवेयर को डाउनलोड ना करें

Untrusted या pirated सॉफ्टवेयर को डाउनलोड करने से बचना चाहिए। कई बार viruses इन्ही के जरिए आपके डिवाइस में install हो जाते हैं।

 

5. महत्वपूर्ण डाटा का बैकअप बना के रखें

अपने जरुरी डाटा का बैकअप हमेशा बना के रखना चाहिए ताकि Ransomware आ जाने की स्थिति में आप की जरुरी फाइल्स और इनफार्मेशन safe रह पाएं।

 

6. कंप्यूटर में एंटीवायरस का इस्तेमाल करें

अपने सिस्टम में हमेशा antivirus का इस्तेमाल करना चाहिए ताकि यह वायरस को तुरंत डिटेक्ट कर सकें। साथ ही अगर आप किसी सॉफ्टवेयर को इनस्टॉल कर रहे हों और अगर उसमे malware है तो ये आपको warning दे सकें।

 

7. सिस्टम को समय समय पर अपडेट करते रहें

अपने डिवाइस को अपडेट करते रहना भी अत्यंत आवश्यक है। इससे आपके ऑपरेटिंग सिस्टम की तरफ से आपके डिवाइस की security settings भी अपडेट होती रहेंगी जिससे खतरा कम रहेगा।

 

Ransomware कैसे हटाए | How to remove Ransomware in hindi

दोस्तों जैसे की बताया गया Ransomware attack कई तरह के होते हैं ज्यादातर हर बार हैकर अटैक करते समय कोई नया Ransomware का ही इस्तेमाल करता है। तो इन virus के आ जाने पर इनसे निजात पाने का कोई fix तरीका नहीं है। अगर Ransomware attack ने आपके डिवाइस को ही लॉक कर दिया है तो आप साइबर सेल (जो की साइबर क्राइम की शिकायत करने के लिए बनाये गए हैं) उन पर रिपोर्ट कर सकते हैं।
कुछ चुनिंदा Ransomware अटैक में जिसमें आपका सिस्टम नहीं लॉक हुआ हो सिर्फ फाइल्स या डाटा encrypt हुआ हो ऐसे Ransomware के आ जाने पर अगर आपने आपने डाटा का बैकअप ले कर रखा है तो आप अपने device को उस बैकअप की पुरानी तरीक पर जा कर रिस्टोर कर सकते हैं जिससे आपका डिवाइस पहले की तरह हो जायेगा।

तो ये थी दोस्तों Ransomware से जुड़ी कुछ महत्पूर्ण जानकारी। हम आशा करते हैं की आपको Ransomware क्या है (What is Ransomware in hindi) समझ आ गया होगा। दोस्तों आपको ये जानकारी कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसे ही खबरें पड़ते रहने के लिए हमें सोशल मीडिया पर फॉलो करें व ऊपर दिए नोटिफिकेशन पर Allow का बटन दबा कर अन्य खबरों का लुफ्त उठाएं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here